38 फ्लोराइड प्रभावित गांवों मैं पेयजल प्रशिक्षण एवं स्वच्छता पखवाड़े के अंतर्गत ग्रमीणों को वाटर टेस्टिंग सीखा रहे है।

38 फ्लोराइड प्रभावित गांवों मैं पेयजल प्रशिक्षण एवं स्वच्छता पखवाड़े के अंतर्गत ग्रमीणों को वाटर टेस्टिंग सीखा रहे है।

आज दिनांक 02 ऑकटुम्बर 2020 को फ्लोराइड प्रभावित ग्राम पंचायते पाड़ा धामनजर, पलाशडी, गढ़वाड़ा, गुंडिपाड़ा की ग्राम सभा में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग (पी.एच. ई.) एवं इनरेम फाउंडेशन के साथ मिलकर राष्ट्रीय पेयजल एवं स्वच्छता पखवाड़ा मनाया गया, झाबुआ एवं अलीराजपुर जिले के 38 गाँवो मैं जल जीवन मिशन के अंतर्गत राष्ट्रीय पेयजल प्रशिक्षण एवं स्वच्छता पखवाडा दिनांक 25 सितम्बर से 10 ऑकटुम्बर तक एक अभियान के रूप में मनाया जा रहा है, जिसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों को स्वास्थ पेय जल के प्रति जागरूक करना एवं पानी गुणवत्ता को जांचना है, जिसमे मल्टी वाटर टेस्टिंग किट के माध्यम से ग्राम सभाओं और मीटिंग मैं फ्लोराइड, टी. डी. एस. हार्डनेस, आयरन,नाइट्रेट सहित 15 पैरा मीटर की टेस्टिंग सिखाई जा रही है, साथ ही जल जीवन मिशन के अंतर्गत विलेज एक्शन प्लान तैयार करना, पेय जल एवं स्वच्छता समिति का गठन करना ताकि 2024 तक सभी को नल से जल उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है,इनरेम फाउंडेशन के द्वरा सभी फ्लोराइड प्रभावित गांवो मैं सेफ और अन सेफ वाटर के अंतर्गत 150 हैंडपंप मैं जांच करने पर फ्लोराइड मिला है उनको पिला रंग और जो 407 सेफ हैंडपंप है उनको नीला रंग का निशान बनाया है,साथ ही ग्रामीणों को नक़्शे के माध्यम से भी जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है, अभी तक 38 गांवो के 557 हैंडपंप को मार्किंग किया जा चुका है, इस अवसर phe विभाग से जिला समन्वयक धुलिया बामनिया, अर्चना डावर, काशीराम बघेल, इनरेम फाउंडेशन से डिस्ट्रिक्ट कॉर्डिनेटर सचिन वाणी, कल्पना बिलवाल, जितेंद पाल, सोहन सिंह भूरिया, सरिता खराड़ी, अर्जुन खराड़ी, भगत सिंह सस्तिया, पिंकी अलावा, सभी सरपंच,सचिव आशा, आगनवाड़ी कार्यकर्ता , आदि का सहयोग मिल रहा है।
Republic MP Team
राज सोलंकी प्रधान संपादक 9425033133
प्रमोद सोलंकी संपादक -
जितेंद्र सिंह सिसोदिया सह संपादक 9827735800
पवन प्रबंध संपादक 9826695898

टिप्पणी पोस्ट करें

Devloped by Sai Web Solution OddThemes