झाबुआ बीएसएनएल में पदस्थ कॉन्ट्रैक्ट वर्करों का वेतन भुगतान नहीं होने पर कर्मचारी बैठे स्ट्राइक पर ।

झाबुआ बीएसएनएल में पदस्थ कॉन्ट्रैक्ट वर्करों का वेतन भुगतान नहीं होने पर कर्मचारी बैठे स्ट्राइक पर ।
 मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले में  बी.एस.एन.एल. यानी भारत संचार निगम लिमिटेड के वर्करों का वेतन भुगतान नहीं किए जाने पर वर्करों द्वारा अपनी सेवाएं बंद कर बैठे स्ट्राइक पर ।वर्करों से चर्चा किए जाने पर यह बताया गया कि अप्रैल 2019 से लेकर मई 2020 तक वेतन कांट्रैक्टर जय श्री राम ट्रेडर्स द्वारा वेतन भुगतान नहीं किया गया । इसी तरह जुलाई 2020 से अगस्त 2020 तक मैसर्स करिश्मा सिक्योरिटी द्वारा कर्मचारियों के वेतन का भुगतान नहीं किया गया है ।वर्करों द्वारा यह शिकायत भी है, कि उनका वेतन उनके बैंक एकाउंट में प्रदान किया जाए ना कि उनके हाथों में वर्करों द्वारा अपनी सेवाएं बंद करके हड़ताल पर बैठने से पूर्व में उनके वेतन की समस्या उनके ऊपर बैठे अधिकारियों एवं वेतन कांट्रेक्टर जय श्री राम ट्रेडर्स और करिश्मा सिक्योरिटी को अवगत कराई । लेकिन उसके बाद भी वर्करों के वेतन संबंधी समस्या का निराकरण नहीं हुआ और कांट्रेक्ट कंपनी का यह कहना है कि हमने  बिल लगाए हैं जब पेमेंट आएगा तो ही भुगतान किया जाएगा। लेकिन सामान्य वर्कर जिनको मात्र ₹5000 का वेतन प्रदान किया जाता है और इन्हीं रुपयों से अपने परिवार की रोजी-रोटी चलाते हैं उनको इतने बड़े बिलों से क्या मतलब है उनका वेतन तो समय से मिलना चाहिए। अधिकारियों को शिकायत करने पर अधिकारी गण कांट्रैक्टर कंपनी का दोष निकालते हैं और कांट्रैक्टर कंपनी से चर्चा करने पर वह अधिकारियों का दोष निकालती है इसी प्रकार एक दूसरे पर ढोला जा रहा है । इन दोनों के बीच में आम वर्कर पीसा जा रहा है । वर्तमान में सभी वर्कर हड़ताल पर है । वर्करों का वेतन अकाउंट में जब तक नहीं दिया जाए और साथ ही पी.एफ. भी दिया जाए जब तक भुगतान नहीं होगा तब तक कोई भी वर्कर कार्य नहीं करेगा ।अगर ऐसा चला तो इसका असर सीधे सीधे पूरे झाबुआ में देखने को मिलेगा क्योंकि कई स्थानों पर बी.एस.एन.एल. कनेक्शन प्रदान किए गए हैं ।अगर कर्मचारियों द्वारा लगातार हड़ताल पर रहने पर सारा कामकाज बंद रहेगा उपभोक्ताओं की समस्याओं के निराकरण हेतु कर्मचारी उपलब्ध नहीं होने पर आम जनता को भी परेशानियों का सामना उठाना पड़ेगा। बेहतर यह होगा कि वर्करों के वेतन संबंधी समस्याओं का निराकरण किया जाए । जिससे भविष्य में कोई भी कर्मचारी को लेकर बड़ी समस्या उत्पन्न न हो पाए।
Republic MP Team
राज सोलंकी प्रधान संपादक 9425033133
प्रमोद सोलंकी संपादक -
जितेंद्र सिंह सिसोदिया सह संपादक 9827735800
पवन प्रबंध संपादक 9826695898

टिप्पणी पोस्ट करें

Devloped by Sai Web Solution OddThemes